e0a4b0e0a58be0a4b8e0a58de0a49fe0a587e0a4a1 e0a4b8e0a4bee0a4b2e0a58de0a49f e0a4aae0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4be e0a495e0a4be e0a4b9
e0a4b0e0a58be0a4b8e0a58de0a49fe0a587e0a4a1 e0a4b8e0a4bee0a4b2e0a58de0a49f e0a4aae0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4be e0a495e0a4be e0a4b9 1

हाइलाइट्स

रोस्टेड साल्ट पिस्ता में सोडियम की मात्रा काफी बढ़ जाती है.
रॉ पिस्ता ब्लड शुगर कंट्रोल करने के साथ कई बीमारियों में फायदेमंद है.

Roasted Salt Pistachio Side Effects: ड्राई फ्रूट्स में अपनी खास जगह रखने वाला पिस्ता सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है ये तो हम सभी जानते हैं लेकिन कम ही लोग जानते होंगे कि रोस्टेड साल्ट पिस्ता कई बार शरीर को फायदा पहुंचाने के बजाय नुकसान भी पहुंचा सकता है. दरअसल, रोस्टेड साल्ट पिस्ता खाने की वजह से ब्लड प्रेशर हाई होने का रिस्क बढ़ जाता है और इसके चलते दिल की बीमारियों और स्ट्रोक के होने का खतरा भी पैदा हो जाता है. ऐसे में आप भी अगर रोस्टेड साल्ट पिस्ता खाने के शौकीन हैं तो इसे रेगुलर खाना शुरू करने से पहले कुछ जरूरी बातें जानना आपके लिए ज़रूरी हैं.
बता दें कि बिना रोस्ट किया हुआ पिस्ता सेहत के लिए लाभकारी होता है. इसमें काफी मात्रा में अनसैचुरेटेड फैटी एसिड और पोटेशियम होता है. ये दोनों ही एंटी-ऑक्सीडेंट्स होने के साथ एंटी-इन्फ्लेमेट्री प्रॉपर्टी लिए होते हैं. वेबएमडी के अनुसार हेल्दी होने के बावजूद रोस्टेड साल्ट पिस्ता ब्लड प्रेशर को बढ़ाने वाला होता है और इससे दिल संबंधी बीमारियां भी पैदा हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ें: जंक फूड को इन 5 हेल्दी स्नैक्स से करें रिप्लेस, मिलेगा लाजवाब स्वाद, सेहत को लेकर हो जाएंगे टेंशन फ्री

रोस्टेड साल्ट पिस्ता खाने से पहले जानें ये बातें
रॉ पिस्ता और रोस्टेड साल्ट पिस्ता के सोडियम की मात्रा में काफी अंतर आ जाता है. रॉ पिस्ता में ज्यादा सोडियम नहीं होता है. (1 कप में लगभग 1 मिलीग्राम), वहीं एक कप रोस्टेड साल्ट पिस्ता में सोडियम की मात्रा बढ़कर लगभग 526 मिलीग्राम तक हो जाती है. शरीर में बहुत ज्यादा मात्रा में सोडियम पहुंचने की वजह से ये ब्लड प्रेशर बढ़ने की वजह बन सकता है. इसके साथ ही हार्ट डिजीज और स्ट्रोक का खतरा भी काफी बढ़ जाता है.

READ More...  Jai Shri Ram: ममता 'दीदी' को और चिढ़ाएगी BJP! अब बांग्ला में जारी किया video song

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

आपमें अगर फ्रूक्टेन को लेकर इन्टॉलेंस है तो पिस्ता का सेवन करने से सूजन, मतली, पेट में दर्द जैसी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है. आप अगर सेहत को लेकर फ्रिकमंद रहते हैं तो रोस्टेड साल्ट पिस्ता के बजाय रॉस पिस्ता खाना ज्यादा बेहतर रहेगा.

इसे भी पढ़ें: एक मुट्ठी से अधिक खाएंगे मूंगफली तो बढ़ जाएगा वजन, हो सकती है ये गंभीर एलर्जी, जान लें कितना करें सेवन

रॉ पिस्ता खाने के ये हैं फायदे
आप अगर रोस्टेड साल्ट पिस्ता के बजाय रॉ पिस्ता को खाते हैं तो ये शरीर के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं. रॉ पिस्ता कार्डियोवस्कुलर डिजीज को रिस्क कम कर सकते हैं. इसके साथ ही पिस्ता में काफी मात्रा में फाइबर, मिनरल्स और अनसैचुरेटेड फैट होता है जो कि ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है वशर्ते वो रोस्टेड साल्ट पिस्ता न हो.
रॉ पिस्ता फाइबर, प्रोटीन से भी भरपूर होता है. इसे खाने से गट हेल्थ में भी सुधार होता है और ये गुड बैक्टीरिया को बढ़ाने में मदद करता है. इसे खाने से वजन कम करने में भी मदद मिल सकती है. कुछ स्टडीज के अनुसार पिस्ता खाने से ब्लड में फैट और शुगर कम होती है, इसके साथ ही ये ब्लड वेसल्स की टोन और लचीलेपन को भी बेहतर बनाता है.

READ More...  President Election: द्रौपदी मुर्मू कल आएंगी पटना, NDA के नेताओं के साथ बैठक कर मांगेंगी समर्थन

Tags: Health, Healthy food, Lifestyle

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)