e0a4b5e0a4bfe0a482e0a49fe0a4b0 e0a487e0a49c e0a495e0a4aee0a4bfe0a482e0a497 e0a4afe0a582e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a495
e0a4b5e0a4bfe0a482e0a49fe0a4b0 e0a487e0a49c e0a495e0a4aee0a4bfe0a482e0a497 e0a4afe0a582e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a495 1

हाइलाइट्स

यूक्रेन के रक्षा मंत्री ने कहा कि रूस को सैनिकों को वापस बुलाने में कम से कम एक सप्ताह का समय लगेगा
ठंड के मौसम से दोनों ओर युद्ध की गति धीमी पड़ जाएगी जिससे दोनों सेनाओं को आराम का समय मिलेगा
रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने निप्रो नदी के पीछे से अपने सैनिकों को निकलने का का आदेश दिया है

कीव. यूक्रेन के रक्षा मंत्री ने गुरुवार को कहा कि रूस को दक्षिणी शहर खेरसॉन से अपने सैनिकों को वापस बुलाने में कम से कम एक सप्ताह का समय लगेगा और सर्दी युद्ध की रफ्तार को धीमा कर देगी, जिससे दोनों पक्षों को फिर से संगठित होने का मौका मिलेगा. उन्होंने न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स से एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि एक या दो दिनों में सैनिकों को खेरसॉन से वापस लेना इतना आसान नहीं है. उन्होंने कहा कि कम से कम, इसमें एक सप्ताह का समय लगेगा.

यूक्रेन के रक्षा मंत्री ने कहा कि ठंड के मौसम से दोनों ओर (रूस और यूक्रेन) युद्ध की गति धीमी पड़ जाएगी, जिससे दोनों सेनाओं को आराम का समय मिलेगा. वहीं ब्रिटेन से युद्ध कौशल सीख कर आ रहे यूक्रेनी सैनिक भी ठंड के समय तक थक चुके सैनिकों को रिप्लेस कर देंगे, जिससे सैन्य बलों में एक नई ताजगी देखने को मिल सकती है.

रूस को निप्रो नदी क्षेत्र में खतरा
रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने निप्रो नदी के पीछे से अपने सैनिकों को निकलने का आदेश दिया है. रूस की न्यूज़ एजेंसी तास ने रक्षा मंत्री के हवाले से बताया कि कर्मियों, हथियारों और हार्डवेयर के सुरक्षित स्थानांतरण को सुनिश्चित करने के लिए यह आदेश दिया गया है. रूस को डर है कि कीव शासन जल्द ही निप्रो नदी क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति पैदा कर सकता है. साथ ही आशंका है कि वह काखोवका बांध पर एक अधिक शक्तिशाली रॉकेट से हमला कर आसपास के क्षेत्र को जलमग्न कर सकता है.

READ More...  खार्किव में रूसी सेना की गोलीबारी में 8 लोगों की मौत, पढ़ें यूक्रेन जंग के लेटेस्ट अपडेट

यूक्रेन ने रूस की घोषणा पर सावधानी के साथ प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कुछ रूसी सेनाएं अभी भी खेरसॉन में हैं और अतिरिक्त रूसी जनशक्ति इस क्षेत्र में भेजी जा रही है. राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की के सलाहकार ओलेक्सी एरेस्टोविच ने बुधवार रात ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, ‘वे बाहर जा रहे हैं, लेकिन उतना नहीं हो रहा है, जितना कि यह एक कंप्लीट पुलआउट या रीग्रुपिंग में होता है.’ एरेस्टोविच ने आगे कहा कि रूसी सेना पुलों को नष्ट करने के साथ सड़कों को खोद रही है.

Tags: Russia ukraine war, Ukraine, Vladimir Putin, World news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)