e0a4b5e0a4bfe0a4a6e0a587e0a4b6 e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a588e0a4a0e0a587 e0a4aae0a482e0a49ce0a4bee0a4ace0a580 e0a497e0a588e0a482
e0a4b5e0a4bfe0a4a6e0a587e0a4b6 e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a588e0a4a0e0a587 e0a4aae0a482e0a49ce0a4bee0a4ace0a580 e0a497e0a588e0a482 1

नई दिल्ली: पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और खालिस्तान समर्थक अपने मंसूबों को अमलीजामा पहनाने के लिए विदेश में बैठे पंजाबी गैंग्स्टर्स से गठजोड़ कर रहे हैं. भारतीय इंटेलिजेंस एजेंसियों को मिली जानकारी में इस बात का पता चला है. इंटेलिजेंस इनपुट के मुताबिक पंजाब में इस वक्त 1 दर्जन से ज्यादा गैंग सक्रिय हैं, जिनमें आधा दर्जन के करीब विदेश से संचालित किए जा रहे हैं और इन गिरोहों के सदस्यों को पाकिस्तान की आईएसआई मदद पहुंचाने का काम कर रही है.

खुफिया एजेंसियों को मिली जानकारी ​के मुताबिक आईएएसआई द्वारा विदेश से ऑपरेट हो रहे गिरोहों के सदस्यों को मदद पहुंचाने के तरीकों में, ड्रोन के जरिए हथियारों की सप्लाई करना और हवाला के जरिए पैसे मुहैया कराना शामिल है. बीते 4 महीने में भारत ने पंजाब में पाकिस्तान से लगी सीमा पर आधा दर्जन से ज्यादा ड्रोन मार गिराए हैं. जांच में पता चला है कि इन ड्रोन्स को पाकिस्तान की ओर से भारतीय सीमा में भेजा गया था.

पंजाब के गैंग्स्टर्स को विदेशों में शरण दिलवाई जा रही 
इंटेलिजेंस रिपोर्ट के मुताबिक पंजाब पुलिस और अन्य सुरक्षाबलों को दूसरे देशों में बैठे 6 खालिस्तानी आतंकवादियों के नाम शेयर किए गए हैं. इनमें 3 अमेरिका, जर्मनी और कनाडा में हैं, जबकि 2 पाकिस्तान और 1 बेल्जियम में है. ये सभी भारत के खिलाफ साजिश रच रहे है. पाकिस्तान बेस्ड खालिस्तानी आतंकी संगठन और आईएसआई की मदद से पंजाब के गैंग्स्टर्स को विदेशों में शरण भी दिलवाई जा रही है और इनके सहारे राज्य में नार्कोटेररिज्म (नशे का आतंक) फैलाया जा रहा है.

READ More...  झारखंड आंकड़ों में घालमेल नहीं कर रहा है, इसलिए संक्रमितों की संख्या ज्यादा है: मुख्यमंत्री सोरेन

ग्रेनेड ब्लास्ट बदले मिलती है पिस्टल और ड्रग्स की खेप
रिपोर्ट में बताया गया है कि पंजाबी गैंग्स्टर्स को ड्रग्स के साथ ग्रेनेड मुफ्त में दिया जाता है. ग्रेनेड ब्लास्ट करने के बदले में उन्हें पिस्टल और ड्रग्स की खेप मिलती है. पठानकोट ग्रेनेड ब्लास्ट में पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ में इस बात की पुष्टि हो चुकी है. पिछले साल सितंबर से अब तक पंजाब में हुए 6 बम ब्लास्ट, टारगेट किलिंग और करोड़ो रुपये की ड्रग तस्करी में स्मगलर्स, गैंग्स्टर्स और आतंकियों के गठजोड़ की बात सामने आ चुकी है. फिरोजपुर, मोगा और बरनाला के गैंग्स्टर्स को खलिस्तान टाइगर फोर्स के मुखिया हरदीप सिंह निज्जर ने कनाडा में शरण दिलवाई.

खालिस्तानी आतंकियों में रोडे, निज्जर, बग्गा प्रमुख हैं 
पंजाब में लोकल गैंग की मदद करने वाले जिन प्रमुख आईएसआई समर्थित खालिस्तानी आतंकियों का नाम सामने आया है, उसमें तस्करों से तालमेल का काम गुरमीत सिंह बग्गा का है. लखबीर सिंह रोडे पाकिस्तान में है, उसका काम ड्रग्स और हथियार भेजना है. बताया जाता है कि पंजाब में बीते दिनों बरामद किए गए टिफिन बम रोडे ने ही भेजे थे. कनाडा में बैठा हरदीप सिंह निज्जर पंजाब में आतंकी वारदातों को अंजाम देने के लिए फंडिंग मुहैया कराने का काम करता है. पंजाब में हुए 3 आतंकी हमलों की जांच में निज्जर का नाम सामने आ चुका है.

Tags: Crime News, Gangsters in Punjab, Punjab

READ More...  पूरी दुनिया में मान्य है Cowin से मिलने वाला वैक्सीन सर्टिफिकेट, आरएस शर्मा ने इंडिया टीवी पर दी जानकारी

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)