e0a4b5e0a4bfe0a4b6e0a58de0a4b5e0a4a8e0a4bee0a4a5e0a4a8 e0a486e0a4a8e0a482e0a4a6 e0a4abe0a4bfe0a4a1e0a587 e0a495e0a587 e0a489e0a4aa
e0a4b5e0a4bfe0a4b6e0a58de0a4b5e0a4a8e0a4bee0a4a5e0a4a8 e0a486e0a4a8e0a482e0a4a6 e0a4abe0a4bfe0a4a1e0a587 e0a495e0a587 e0a489e0a4aa 1

नई दिल्ली. पांच बार के विश्व चैंपियन भारत के दिग्गज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद (Viswanathan Anand )फिलहाल शतरंज को छोड़ने के मूड में नहीं हैं. आनंद का कहना है कि फिडे अध्यक्ष बनने के बाद भी वह खेल को जारी रखेंगे. 52 वर्षीय आनंद ने यह बात एक संवाददाता सम्मेलन में कही. आनंद ने कहा कि कोरोनाकाल के दौरान लोगों में शतरंज खेलने को लेकर काफी दिलचस्पी बढ़ी है. उन्होंने कहा कि इस खेल को बढ़ावा देने के लिए वह पूरा प्रयास करेंगे.

विश्वनाथन आनंद ने जुलाई-अगस्त में महाबलीपुरम में होने वाले 44वें शतरंज ओलंपियाड (Chess Olympiad) के तहत नई दिल्ली में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘ यह सबसे बड़ा शतरंज टूर्नामेंट है. अधिकांश टूर्नामेंटों में 10 , 20 या अधिकतम 50 खिलाड़ी होते हैं लेकिन यहां 2000 के करीब खिलाड़ी होंगे. ऐसे में इसकी तुलना ही नहीं हो सकती. भारत में पहली बार 28 जुलाई से महाबलीपुरम में शतरंज ओलंपियाड का आयोजन होगा.

यह भी पढ़ें:16 वर्षीय भारतीय ग्रैंडमास्टर प्रागननंदा ने अजेय रहते हुए जीता नॉर्वे शतरंज ओपन का खिताब, आनंद तीसरे स्थान पर रहे

नॉर्वे शतरंज: विश्वनाथन आनंद और अनीश गिरि की बाजी ड्रॉ, मैग्नस कार्लसन को बढ़त

यदि आगामी चुनाव में निवर्तमान अध्यक्ष अर्काडी वोरकोविच फिर चुने जाते हैं तो आनंद अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ (फिडे ) के उपाध्यक्ष होंगे. वोरकोविच ने अपनी टीम में आनंद को इस पद के लिए नामित किया है. यह पूछने पर कि फिडे अध्यक्ष बनने के बाद वह वह खेलना छोड़ देंगे? इसपर आनंद ने कहा, ‘ मेरा अभी खेल को अलविदा कहने का कोई इरादा नहीं है. फिडे उपाध्यक्ष बनने के बाद भी मैं अपने खेल को जारी रखने की ओर देख रहा हूं.’

READ More...  थॉमस कप जीतकर घर लौटे प्रियांशु राजावत की निकली शान की सवारी, स्वागत मेंं उमड़ा पूरा शहर

‘मौजूदा समय में मैं बहुत कम टूर्नामेंट खेल रहा हूं’ 
विश्वनाथन आनंद ने इस दौरान बताया कि उनसे मार्च में फिडे उपाध्यक्ष पद के लिए पूछा गया था तो, उन्होंने इसपर हामी भर दी. आनंद के मुताबिक मुझे यह ऑफर अच्छा लगा. आनंद ने कहा, ‘ मौजूदा समय में मैं बहुत कम टूर्नामेंट खेल रहा हूं. मेरा फोकस अपनी अकादमी पर भी है. मेरे लिए यह एक नई चुनौती है और मैं इससे सीखने की कोशिश करुंगा.’

पीएम मोदी 19 जून को करेंगे ऐतिहासिक मशाल रिले की शुरुआत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 जून रविवार शाम दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में 44वें शतरंज ओलंपियाड के लिए ‘ऐतिहासिक मशाल रिले’ की शुरुआत करेंगे. इस वर्ष पहली बार अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ (फिडे) ने शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले की शुरुआत की है जो कि ओलंपिक परंपरा का हिस्सा है और जिसे शतरंज ओलंपियाड में अब तक कभी शामिल नहीं किया गया था.

Tags: Chess, Sports news, Viswanathan Anand

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)