parambir singh letter ruckus in parliament bjp demands uddhav thackeray anil deshmukh resignation सं- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV संसद में परमबीर के लेटर पर हंगामा, BJP सांसद ने की मुख्यमंत्री के त्यागपत्र की मांग

नई दिल्ली. महाराष्ट्र में मुंबई पुलिस कमिश्नर के पद से हटाए गए परमबीर सिंह के पत्र का मुद्दा सोमवार को लोकसभा और राज्यसभा में उठा। दोनों सदनों में भारतीय जनता पार्टी ने इस मुद्दे पर हंगामा किया। हंगामे की वजह से राज्यसभा को स्थगित करना पड़ा। लोकसभा में मुंबई उत्तर पूर्व से सांसद मनोज कोटक ने इस मुद्दे पर महाराष्ट्र के गृह मंत्री तथा मुख्यमंत्री के त्यागपत्र की मांग रखी।

पढ़ें- Holi 2021: कल बरसाना और परसों नंदगांव में खेली जाएगी लट्ठमार होली

मुंबई उत्तर पूर्व से भारतीय जनता पार्टी सांसद मनोज कोटक ने कहा कि महाराष्ट्र जैसे प्रगतिशील राज्य में जो पिछले दिनो से घटना चल रही है और उस घटना में जिस तरह के मामले सामने आ रहे हैं कि पुलिस अधिकारी मुख्यमंत्री की चिट्ठी लिखता हौ उसमें महाराष्ट्र के गृह मंत्री के बारे में बताता है कि एक पुलिस अधिकारी को बुलाकर 100 करोड़ की उगाही करने के लिए कहता है।

पढ़ें- सुरक्षा की दृष्टि से योगी सरकार का बड़ा फैसला, होली पर 20 जिलों में RAF होगी तैनात

उन्होंने कहा कि इस मामले पर मुख्यमंत्री कुछ नहीं बोल रहे हैं, महाराष्ट्र की सरकार जिस तरह चल रही है उसको लेकर महाराष्ट्र के लोगों में धारणा है यह लूटपाट करने के लिए और व्यापारियों को डराने के लिए सरकार सरकार अपने तंत्र का इस्तेमाल कर रही है। मेरी सरकार से मांग है कि इसपर कार्रवाई होनी चाहिए और सीबीआई से जांच होनी चाहिए। महाराष्ट्र की सरकार में मुख्यमंत्री और गृहमंत्री को त्यागपत्र होना चाहिए।

READ More...  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मकर संक्रांति में गुजराती भाषा में कविता लिखी, पढ़ें हिंदी अनुवाद

पढ़ें- ED या उनके पिताजी को ले आइए… महाराष्ट्र सरकार का कोई बाल बांका नहीं कर सकता: संजय राउत

भाजपा सांसद पूनम महाजन ने कहा कि जब एक API से 6000 करोड़ की अपेक्षा हो रही होगी तो समझिए NCP के गृहमंत्री और कितने API से पैसा वसूल करना चाहते हैं यह भी बहुत सवालिया निशान खड़ा करता है। मुझे यह भी समझ नहीं आ रहा कि जब गृहमंत्री NCP का है और वो बोल रहे हैं कि हम पैसा भी लेंगे और त्यागपत्र भी नहीं देंगे, शिवसेना को मिर्ची लगी है इसका समझ नहीं आ रहा कौन किसकी चाकरी कर रहा है और कौन किसके लिए काम कर रहा है। 

पढ़ें- दिल्ली में हो सकती है बारिश, मौसम विभाग का अनुमान

आपको बता दें कि परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे अपने पत्र में गृह मंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाया है कि गृह मंत्री सस्पेंड असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वाजे के जरिए मुंबई में अवैध 100 करोड़ रुपए की उगाही करवाते थे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी लोकसभा में इस मुद्दे को उठाया।  

पढ़ें- Parambir Singh Letter: शिवसेना भी अनिल देशमुख के साथ, संजय राउत बोले- कोई भी किसी पर भी लगा सकता है आरोप

Original Source(india TV, All rights reserve)