e0a4b8e0a4b0e0a495e0a4bee0a4b0 e0a495e0a4be e0a4a6e0a4bee0a4b5e0a4be fy23 e0a4aee0a587e0a482 100 e0a485e0a4b0e0a4ac e0a4a1e0a589e0a4b2
e0a4b8e0a4b0e0a495e0a4bee0a4b0 e0a495e0a4be e0a4a6e0a4bee0a4b5e0a4be fy23 e0a4aee0a587e0a482 100 e0a485e0a4b0e0a4ac e0a4a1e0a589e0a4b2 1

नई दिल्ली. भारत अपने आर्थिक सुधारों और कारोबार करने में सुगमता के प्रयासों के बूते चालू वित्त वर्ष (FY23) में 100 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) आकर्षित करने की दिशा में अग्रसर है. सरकार ने शनिवार को यह अनुमान जताया.

देश में एफडीआई 101 देशों से आया 
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘देश में एफडीआई 101 देशों से आया जिसे 31 केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों में तथा 51 क्षेत्रों में निवेश किया गया. अपने आर्थिक सुधारों और कारोबार करने में सुगमता बढ़ाने के प्रयासों के बूते भारत चालू वित्त वर्ष में 100 अरब डॉलर का एफडीआई पाने की दिशा में बढ़ रहा है.’’

2021-22 में अब तक का सर्वाधिक 83.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ
देश को 2021-22 में अब तक का सर्वाधिक 83.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ था. मंत्रालय ने कहा कि विदेशी निवेश आकर्षित करने के लिए सरकार ने उदार तथा पारदर्शी नीति अपनाई है जिसमें ज्यादातर क्षेत्र स्वचालित मार्ग के जरिए एफडीआई के लिए खुले हैं. सुधार के कदम अनावश्यक अनुपालन बोझ को कम करने, लागत घटाने और कारोबारी सुगमता को बढ़ाने के लिए उठाए गए हैं.

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में भारत में एफडीआई इक्विटी प्रवाह छह फीसदी गिरकर 16.6 अरब डॉलर हो गया.

नीति में संशोधन के बाद रक्षा क्षेत्र में 494 करोड़ रुपये का एफडीआई आया : सरकार
इससे पहले इस साल जुलाई में सरकार ने राज्यसभा में कहा था कि सितंबर 2020 में एफडीआई से जुड़ी नीति में संशोधन के बाद से भारत को रक्षा क्षेत्र में करीब 494 करोड़ रुपये का एफडीआई प्राप्त हुआ है रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी थी.

READ More...  Post Office MIS: पोस्ट ऑफिस की सुपरहिट स्कीम, हर महीने होगी गारंटीड इनकम

Tags: Fdi

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)