e0a4b8e0a4bee0a4afe0a4ace0a4b0 e0a485e0a4aae0a4b0e0a4bee0a4a7e0a4bfe0a4afe0a58be0a482 e0a495e0a587 e0a4a8e0a4bfe0a4b6e0a4bee0a4a8
e0a4b8e0a4bee0a4afe0a4ace0a4b0 e0a485e0a4aae0a4b0e0a4bee0a4a7e0a4bfe0a4afe0a58be0a482 e0a495e0a587 e0a4a8e0a4bfe0a4b6e0a4bee0a4a8 1

हाइलाइट्स

कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत के नाम पर व्हाट्सएप प्रोफाइल बना ठगी की बड़ी तैयारी.
मोबाइल नंबर 8015839750 के व्हाट्सएप प्रोफाइल में कृषि मंत्री की लगाई तस्वीर.
कृषि विभाग के अधिकारियों और अन्य लोगों को भेजा जा रहा मैसेज, केस दर्ज हुआ.

पटना. सायबर क्राइम रोकने बिहार पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती बनती जा रही है. कई ऐसे बड़े मामले हैं जिससे कि पूरी की पूरी सरकार ही हिल गई. बिहार के बड़े अधिकारियों के बाद अब सायबर क्रिमनलों के निशाने पर विधायक और मंत्री हैं. बिहार में सायबर अपराधियों का हौसला इतना बुलंद है कि बिहार के डीजीपी, मुख्य सचिव के बाद बिहार सरकार के एक मंत्री को भी अपराधियों ने नहीं बख्शा.

अपराधियों ने बिहार सरकार के कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत के नाम पर एक व्हाट्सएप प्रोफाइल बना दिया और इस व्हाट्सएप के जरिए विभाग के अधिकारियों और अन्य लोगों को मैसेज भेजा जाने लगा. मामले की जानकारी मिलते ही कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत के आप सचिव राजीव रंजन ने इसकी सूचना अपर पुलिस महानिदेशक आर्थिक अपराध इकाई को दी. उन्होंने बताया कि मोबाइल नंबर 80 1583 9750 के द्वारा व्हाट्सएप प्रोफाइल में कृषि मंत्री की तस्वीर लगाकर कृषि विभाग के अधिकारियों और अन्य लोगों को मैसेज भेजा जा रहा है.

सायबर अपराधियों के द्वारा इस तरीके के वारदात को अंजाम देने का यह कोई पहला मामला नहीं है. इसके पहले भी कई विधायक सांसद और अधिकारी सायबर क्रिमिनल्स के शिकार हो चुके हैं. सायबर अपराधी घटना को अंजाम देने के लिए बड़े ही शातिर आना तरीके से सोशल मीडिया को हथियार बना रहे हैं.

READ More...  भारत और बांग्लादेश के बीच चली तीसरी ट्रेन मिताली एक्सप्रेस, ये है रूट और टाइमिंग

फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिए कई लोगों को अभी तक चूना लगाया जा चुका है. हालांकि, सायबर अपराधियों के द्वारा बड़े लोगों को ठगे जाने के बाद उन पर पुलिसिया कार्रवाई तत्काल होती है, लेकिन आम लोग अभी भी रोजाना बड़ी संख्या में इनके शिकार हो रहे हैं, लेकिन कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 16, 2022, 09:06 IST

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)