e0a4b8e0a581e0a4b7e0a58de0a4aee0a4bfe0a4a4e0a4be e0a4b8e0a587e0a4a8 e0a495e0a580 e0a4ade0a4bee0a4ade0a580 e0a49ae0a4bee0a4b0e0a582
e0a4b8e0a581e0a4b7e0a58de0a4aee0a4bfe0a4a4e0a4be e0a4b8e0a587e0a4a8 e0a495e0a580 e0a4ade0a4bee0a4ade0a580 e0a49ae0a4bee0a4b0e0a582 1

‘बालवीर’, और ‘मेरे अंगने में’ जैसे सीरियल्स में काम कर चुकीं एक्ट्रेस चारु असोपा सेन (Charu Asopa Sen) अपने पति राजीव सेन और अपनी सात महीने की बेटी जियाना सेन के साथ रहती हैं और इन दिनों एक किस्से को लेकर चर्चा में बनी हुई हैं. चारु की लाइफ में फिलहाल तो सब ठीकठाक है, लेकिन पिछले साल ही वह पोस्टपार्टम डिप्रेशन का सामना कर चुकी हैं. चारु ने हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया है, साथ ही यह भी बताया कि वह इस डिप्रेशन से कैसे बाहर निकलीं.

बॉलीवुड एक्ट्रेस सुष्मिता सेन की भाभी चारु आसोपा और राजीव सेन पिछले साल नवंबर में एक बेटी के पेरेंट्स बने. हिंदुस्तान टाइम्स के साथ एक बातचीत में चारू ने बताया कि बेबी गर्ल को जन्म देने के बाद वह पोस्टपार्टम डिप्रेशन का शिकार हुईं और इस मुश्किल घड़ी से बाहर निकलने में उन्हें उनके काम ने मदद की. चारू ने बताया कि कैसे पोस्टपार्टम डिप्रेशन उन्हें अकेला और अलग-थलग महसूस कराता था. इस दौरान वह केवल अपने काम पर डिपेंड रहीं. हालांकि, वह अभी भी रिकवरी मोड पर हैं.

‘जब भी मैं काम करती हूं तो मुझे अच्छा लगता है’
चारू ने कहा, “मैं उस समय बहुत अलग-थलग महसूस करती थी, बिल्कुल अकेली … यह एक बुरा अनुभव था. मुझे लगता है कि मेरे काम ने ही मुझे इससे बाहर निकलने में मदद की, क्योंकि जब मैं छोटे-छोटे ऐड कैंपेन करती थी तो मुझे अच्छा लगता था. इसलिए, जब भी मैं काम करती हूं तो मुझे अच्छा लगता है और इससे मुझे पोस्टपार्टम डिप्रेशन से बाहर निकलने में भी मदद मिली. अब, मैं अपना ख्याल रख रही हूं और घर से काम करने से मुझे अपने बारे में अच्छा महसूस हुआ और वास्तव में मुझे मदद मिली.”

READ More...  रोहित शेट्टी ने 'नॉर्थ वर्सेज साउथ' डिबेट पर कही दिल की बात, जानें बॉलीवुड के भविष्य को लेकर क्या बोले

‘डिप्रेशन के बारे में लोग खुलकर बात नहीं करते’
इंटरव्यू में चारु ने आगे कहा, “डिप्रेशन एक ऐसी चीज है जिसके बारे में लोग खुलकर बात नहीं करते हैं. लेकिन इस पर चर्चा होनी चाहिए और निश्चित रूप से हमें प्रभावित करने वालों के रूप में इस पर चर्चा करनी चाहिए, ताकि अन्य लोग इस पर खुलकर चर्चा कर सामान्य महसूस कर सकें.” इसी बातचीत में चारु ने अपनी बेटी जियाना को बेहतर भविष्य और अच्छी शिक्षा देने के लिए काम करना जारी रखने की इच्छा भी जाहिर की.

‘बेटी जियाना की बेहतरी के लिए करना चाहती हूं काम’
उन्होंने कहा, “मैं अपनी बेटी जियाना की बेहतरी के लिए काम करना चाहती हूं, ताकि मैं उसे एक बेहतर जीवन और बेहतर शिक्षा दे सकूं, इसलिए मैं फिर से काम करना चाहती हूं. मुझे नहीं लगता कि मैं उसे घर पर छोड़कर काम पर जाने के लिए दोषी महसूस करूंगी.” जितना संभव हो सके, मैं जियाना का ध्यान रखने की पूरी कोशिश करूंगी. मैं जियाना को अपने साथ शूटिंग पर ले जाने की भी सोच रही हूं. वह मेरे साथ मेकअप रूम में रह सकती है और वहां चिल कर सकती है.”

Tags: Entertainment news.

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)