e0a4b9e0a4b0e0a4bfe0a4afe0a4bee0a4a3e0a4bee0a483 e0a495e0a4bfe0a4b0e0a4a3 e0a49ae0a58ce0a4a7e0a4b0e0a580 e0a4a8e0a587 e0a4b9e0a4ae
e0a4b9e0a4b0e0a4bfe0a4afe0a4bee0a4a3e0a4bee0a483 e0a495e0a4bfe0a4b0e0a4a3 e0a49ae0a58ce0a4a7e0a4b0e0a580 e0a4a8e0a587 e0a4b9e0a4ae 1

चरखी दादरी. पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी की पोल खोलते हुए बड़े आरोप लगाए हैं. कहा कि किरण चौधरी ने हमेशा अपने स्वार्थ के लिए कांग्रेस के साथ धोखा किया है, जो अपने परिवार की नहीं हो सकती, वह भला कांग्रेस की कैसे हो सकती है. किरण ने 2019 के विधानसभा चुनाव में पैसे लेकर अपनों को दिलाई थी, जिसके कारण चरखी दादरी से उनकी टिकट काट दी गई.

सतपाल सांगवान ने अपने दादरी निवास पर कार्यकर्ताओं से चर्चा की और मीडिया से बात करते हुए कहा कि किरण चौधरी को दिल्ली से हरियाणा में स्व. बंशीलाल के साथ लाने के लिए मैंने अगुवाई की थी. हालांकि, पूर्व सीएम स्व. बंशीलाल उस समय मुझ पर नाराज भी हुए थे.

परिवार को एक करने के लिए ही किरण चौधरी पर विश्वास किया था, लेकिन किरण ने मेरे साथ-साथ अपनों को भी धोखा दिया. सांगवान ने कहा कि मुझे व अन्य कांग्रेसियों को हरवाने के लिए किरण चौधरी ने सांसद धर्मबीर सिंह सहित दूसरी पार्टियों के नेताओं से हाथ मिला लिया था, जो अपने परिवार की नहीं हो सकती, वह भला कांग्रेस की कैसे हो सकती है. किरण चौधरी ने हमेशा अपने स्वार्थ के लिए कांग्रेस के साथ धोखा किया है। पांच साल तक सीएलपी लीडर रहने के दौरान एक भी विधायक को अपने साथ नहीं रख पाई. यहां तक कि भिवानी जिले का एक भी पूर्व विधायक उनके साथ नहीं है. आज भाजपा के नेता भी मानते हैं कि अगर किरण जैसी नेता कांग्रेस में रही तो भाजपा के लिए कोई खतरा नहीं है.

READ More...  VIDEO: किलर व्हेल से बचने के लिए 360 किलो की सील ने लगा दी नाव में छलांग, डूबते-डूबते बचे 2 लोग

सोशल मीडिया पर किरण के भाजपा में जाने की बात पर पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने कहा कि जब तक किरण कांग्रेस में रहेगी तो हरियाणा में कांग्रेस को उभरने नहीं देगी. किरण कांग्रेस छोड़ती है तो वह हरियाणा कांग्रेस के लिए बड़ा दिन होगा.

सांगवान ने कहा कि किरण अगर भाजपा में जाती है तो तोशाम से जीतकर दिखाए, क्योक किरण ने अपनों को खत्म करने की राजनीत की है. बता दें कि सतपाल सांगवान ने 2019 का विधानसभा चुनाव दादरी से जजपा की टिकट पर लड़ा था, दूसरे स्थान पर रहे थे. वहीं, 2009 में हजकां की टिकट पर चुनाव जीतकर कांग्रेस में शामिल होते हुए हुड्डा सरकार में सहकारिता मंत्री रहे हैं.

Tags: Haryana Congress, Haryana news live

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)