17 e0a49ce0a582e0a4a8 e0a495e0a58b e0a4b9e0a58be0a497e0a580 e0a49ce0a580e0a48fe0a4b8e0a49fe0a580 e0a4aee0a482e0a4a4e0a58de0a4b0e0a4bf
17 e0a49ce0a582e0a4a8 e0a495e0a58b e0a4b9e0a58be0a497e0a580 e0a49ce0a580e0a48fe0a4b8e0a49fe0a580 e0a4aee0a482e0a4a4e0a58de0a4b0e0a4bf 1

नई दिल्‍ली. जीएसटी काउंसिल (GST Council) द्वारा कर दरों को युक्तिसंगत बनाने और कर ढांचे की विसंगतियों को दूर कर राजस्व बढ़ाने के उपाय सुझाने के लिए बनाए गए मंत्रिसमूह (GoM) की बैठक 17 जून को होने की संभावना है. कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बसवराज बोम्‍बई की अगुवाई वाले मंत्रिसमूह को अपनी रिपोर्ट जीएसटी काउंसिल की अगली बैठक से पहले देनी है. जीएसटी काउंसिल की बैठक इस महीने के अंत तक हो सकती है.

CNBC-TV18  को सूत्रों ने बताया कि मंत्रिसमूह की बैठक में वर्तमान 5 फीसदी जीएसटी स्‍लैब को 7/8 फीसदी और 18 फीसदी को बदलकर 20 फीसदी करने के प्रस्‍ताव पर चर्चा होगी. इसके अलावा जीओएम जीएसटी के तहत दी जाने वाली छूटों की सूची में कटौती करने और टेक्‍सटाइल पर लागू इन्‍वर्टेड ड्यूटी स्‍ट्रक्‍चर को सुधारने पर भी विचार-विमर्श करेगा.

ये भी पढ़ें- अब तक 2.58 लाख करोड़ का हुआ डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन, सालाना आधार पर बड़ी वृद्धि

क्‍यों महत्‍वपूर्ण है यह बैठक
मंत्रिसमूह की की होने वाली यह इस बैठक का महत्‍व इसलिए बढ़ गया है कि अगर सदस्‍य राज्‍यों में सहमति बनती है तो जीएसटी ढांचे में बड़े परिवर्तन का रास्‍ता साफ हो जाएगा. मंत्रिसमूह में बिहार, यूपी, राजस्‍थान, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, गोवा और केरल शामिल हैं. अगर राजस्‍थान, केरल और पश्चिम बंगाल ने आपत्ति नहीं की तो मंत्रिसमूह 17 को होने वाली अपनी बैठक में अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप दे सकता है.

GST के हैं चार स्‍लैब
फिलहाल जीएसटी के चार स्‍लैब- 5 फीसदी, 12 फीसदी, 18 फीसदी और 28 फीसदी. 18 फीसदी 480 चीजों पर लगती है और कुल जीएसटी कलेक्‍शन का करीब 70 फीसदी इसी स्‍लैब से आता है. इसके अलावा जीएसटी से कई चीजों को छूट भी प्रदान की गई है. इनमें अनब्रांडेड और अनपेक्‍ड खाद्य सामग्री भी शामिल हैं.

READ More...  अब भारत से निर्यात हो सकेगा गेहूं, मगर कुछ शर्तों के साथ, इन देशों में जाएगी खेप

मई में हुई 1.41 लाख करोड़ जीएसटी वसूली
वस्तु एवं सेवा कर (GST) की वसूली मई में 1.41 लाख करोड़ रुपये रही. जीएसटी लागू होने के बाद यह चौथी बार है जब वसूली का आंकड़ा 1.40 लाख करोड़ रुपये के पार रहा है. मार्च 2022 से यह लगातार इस स्तर के पार बना हुआ है. मई का जीएसटी कलेक्‍शन अप्रैल 2022 महीने की तुलना में 16 फीसदी कम रहा.

ये भी पढ़ें- काम की बात : NPS से जुड़ी समस्याओं का अब वॉट्सऐप पर होगा समाधान, ट्रस्‍ट ने सब्‍सक्राइबर के लिए शुरू की नई सर्विस

अप्रैल 2022 में GST कलेक्शन ने नया रिकॉर्ड बनाते हुए पहली बार 1.67 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा छुआ था. जबकि मार्च महीने में 1.42 लाख करोड़ रुपये की जीएसटी वसूली हुई थी. वित्त मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, चालू वित्त वर्ष 2022-23 के दूसरे महीने यानी मई में जीएसटी कलेक्शन 1,40,885 लाख करोड़ रुपये रहा.

Tags: Gst, GST council meeting, Gst latest news in hindi

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)