agnipath protest e0a4aae0a581e0a4b2e0a4bfe0a4b8e0a495e0a4b0e0a58de0a4aee0a4bfe0a4afe0a58be0a482 e0a495e0a580 e0a49be0a581e0a49fe0a58de0a49f
agnipath protest e0a4aae0a581e0a4b2e0a4bfe0a4b8e0a495e0a4b0e0a58de0a4aee0a4bfe0a4afe0a58be0a482 e0a495e0a580 e0a49be0a581e0a49fe0a58de0a49f 1

लखनऊ. केंद्र की सेना में भर्ती के लिए ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ यूपी के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुआ. इस दौरान आक्रोशित युवाओं ने कई जगह ट्रेनों में तोड़फोड़ की तो कई जगह निजी, सार्वजनिक वाहनों को आगे के हवाले करने के साथ हाईवे जाम किए गए. वहीं, यूपी पुलिस ने अग्निपथ योजना के खिलाफ उपद्रव करने वालों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई शुरू कर दी है. अब तक 260 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इसके अलावा बलिया के बाद अयोध्‍या में धारा 144 लागू कर दी गई है.

‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ यूपी में अब तक 6 एफआईआर दर्ज की गई हैं. इस दौरान फिरोजाबाद, अलीगढ़ और नोएडा कमिश्नरेट में एक-एक, तो वाराणसी कमिश्नरेट में तीन एफआईआर दर्ज की गई हैं. इसके अलावा यूपी पुलिस ने सेना भर्ती की अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन को देखते हुए तत्काल प्रभाव से 23 जून तक पुलिसकर्मियों की छुट्टियां कैंसिल कर दी हैं.

अब तक 260 उपद्रवी गिरफ्तार
बता दें कि यूपी के बलिया में युवाओं ने ‘भारत माता की जय’ और ‘अग्निपथ वापस लो’ जैसे नारे लगाते हुए एक खाली ट्रेन में आग लगा दी. इसके अलावा कुछ अन्य ट्रेनों में तोड़फोड़ की, जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया. वहीं, वाराणसी, फिरोजाबाद और अलीगढ़ में भी विरोध प्रदर्शन हुए, जिससे सरकारी बसों और अन्य सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचा है. यूपी पुलिस के मुताबिक, अब तक 260 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है. इस दौरान बलिया में 109, मथुरा में 70, अलीगढ़ में 30, वाराणसी कमिश्नरेट में 27, नोएडा कमिश्नरेट में 15 और आगरा में 9 आरोपी गिरफ्तार किए हैं.

READ More...  कृष्ण जन्मभूमि मामले में नई याचिका दायर, आगरा के लाल किले में खुदाई की मांग

जानें क्‍या है केंद्र की योजना
केंद्र सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूल-चूल परिवर्तन करते हुए तीनों सेनाओं में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी. इसके तहत सैनिकों की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी. योजना के तहत तीनों सेनाओं में इस साल करीब 46,000 सैनिक भर्ती किए जाएंगे. चयन के लिए पात्रता आयु साढ़े 17 वर्ष से 23 वर्ष के बीच होगी और इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा. इस दौरान 25 प्रतिशत रंगरूटों को नियमित सेवा के लिए बरकरार रखा जाएगा. वहीं, बाकी बचे 75 फीसदी युवाओं को केंद्रीय बलों के साथ पुलिस में वरीयता मिलेगी.

Tags: Agniveer, Section 144, UP police

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)