fact check e0a4aae0a587e0a4b2e0a587 e0a495e0a587 e0a4aae0a588e0a4b0 e0a495e0a58b e0a4aee0a58de0a4afe0a582e0a49ce0a4bfe0a4afe0a4ae e0a4ae
fact check e0a4aae0a587e0a4b2e0a587 e0a495e0a587 e0a4aae0a588e0a4b0 e0a495e0a58b e0a4aee0a58de0a4afe0a582e0a49ce0a4bfe0a4afe0a4ae e0a4ae 1

हाइलाइट्स

पेले के पैर को फीफा संग्रहालय में नहीं रखा जायेगा.
PTI फैक्ट चेक ने सोशल मीडिया की खबरों को भ्रामक बताया है.

नई दिल्ली: दिवंगत फुटबॉल खिलाड़ी पेले को लेकर एक फेसबुक पोस्ट में दावा किया गया कि उनके परिवार की सहमति से उनके पैर को एक संग्रहालय में रखा जाएगा लेकिन ‘पीटीआई’ के फैक्ट चेक में इस दावे को गलत पाया गया. वैश्विक फुटबॉल का संचालन करने वाली संस्था फीफा ने भी इसे भ्रामक करार दिया. दुनिया के सबसे सर्वश्रेष्ठ फुटबॉल खिलाड़ियों में शामिल पेले का निधन बीते 29 दिसंबर को हो गया था. पेले के पैर को संग्रहालय में रखने संबंधी फेसबुक पोस्ट को तीन जनवरी को लिखा गया था. दुनिया भर में लोकप्रियता के कारण यह पोस्ट वायरल हो गया और फिर सोशल मीडिया पर इस तरह के कई और पोस्ट साझा किये गये. ‘पीटीआई’ ने इस पोस्ट के फैक्ट चेक की शुरुआत गुगल सर्च पर ‘पेले के पैर को संग्रहालय’ में रखा जायेगा से की. इससे जुड़ी कोई भी खबर नहीं मिली. 

इसके बाद फीफा की आधिकारिक वेबसाइट और सोशल मीडिया हैंडल पर इस तरह की किसी घोषणा को ढूंढने की कोशिश हुई लेकिन इससे संबंधित कुछ नहीं मिला. इसने सोशल मीडिया पोस्ट में साझा की गई तस्वीर में टीएनटी स्पोर्ट्स का हवाला दिया गया था लेकिन टीएनटी की वेबसाइट और ट्विटर हैंडल खंगालने पर वहां भी इससे संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली. इसके बाद ‘गुगल’ पर पेले के निधन से जुड़े शब्दों को लेकर खोज की गयी. इसमें भी पेले के पैर को संग्रहालय में रखने संबंधी कोई खबर नहीं मिली. फुटबॉल के इस ‘बादशाह’ की अंत्येष्टि तीन जनवरी को सांतोस (Santos) में की गयी थी.

READ More...  VIDEO: क्रिस वोक्स के सामने रॉकेट की तरह आ रही थी गेंद, कुछ यूं दुनिया को हैरान करते हुए पकड़ लिया कैच

ये भी पढ़ें- बीसीसीआई को लगने वाली है करोड़ों की चपत…बुलानी पड़ी आपात मीटिंग…नहीं निकला कोई नतीजा

इस जांच को आगे बढ़ते हुए ‘पीटीआई’ की फैक्ट चेट टीम ने फीफा को ई-मेल किया. फीफा के एक प्रवक्ता ने अपने ईमेल के कहा, ‘हम इस दावे का पूरी तरह से खंडन करते हैं.’ इसका निष्कर्ष यह निकला कि सोशल मीडिया पर पेले और फीफा के बारे में साझा किया गया दावा झूठा था.

Tags: Fact Check, Football, Football news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)