gold price e0a4b8e0a58be0a4a8e0a587 e0a4aae0a587 e0a4b8e0a581e0a4b9e0a4bee0a497e0a4be e0a4ade0a4bee0a4b5 e0a49ce0a58be0a4b0 e0a4b8e0a587
gold price e0a4b8e0a58be0a4a8e0a587 e0a4aae0a587 e0a4b8e0a581e0a4b9e0a4bee0a497e0a4be e0a4ade0a4bee0a4b5 e0a49ce0a58be0a4b0 e0a4b8e0a587 1

हाइलाइट्स

कमोडिटी मार्केट एक्सपर्ट्स ने कहा- सोने के भाव में तेजी का रुख जारी रहेगा.
चीन में बढ़ते कोविड के मामले और मंदी के डर से सोने में निवेश बढ़ेगा.
भारतीय सर्राफा बाजार में सोने का भाव 55 हजार के स्तर के ऊपर ही ट्रेड कर रहा है.

नई दिल्ली. सोने की कीमतों (Gold Price Today) में लगातार तेजी आने से अब यह कीमती धातु नए रिकॉर्ड हाई पर जाने के लिए तैयार है. कमोडिटी मार्केट के कई एक्सपर्ट्स ने इस बात की संभावना जताई है. ऐसे में हर मामूली गिरावट पर गोल्ड में इन्वेस्टमेंट निवेशकों को तगड़ा मुनाफा दे सकता है. सोने के भाव में तेजी का रुख कायम है और 2022 में करीब 14 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद गोल्ड प्राइस में लगातार 10वें सप्ताह तक तेजी जारी है.

बीते सप्ताह में मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर फरवरी 2023 के सोने के वायदा अनुबंध में 1.38 फीसदी का साप्ताहिक मुनाफा देखने को मिला और यह ₹55,730 प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ. हालांकि, अंतरराष्ट्रीय बाजार में बीते सप्ताह सोने की कीमतें करीब 2.36 फीसदी बढ़ी और 1,865 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर बंद हुई. भारतीय सर्राफा बाजार में सोने का भाव 55 हजार के स्तर के ऊपर ही ट्रेड कर रहा है.

ये भी पढ़ें- टॉफी की कीमत में खरीदे स्‍टॉक ने रुपयों से भर दिया घर, 18 हजार रुपये लगाने वालों को भी मशीन से गिनना पड़ेगा पैसा

क्यों बढ़ रहा है सोने का भाव?
कमोडिटी बाजार के विशेषज्ञों के अनुसार, चीन में कोविड के बढ़ते मामलों, यूएस फेड की टिप्पणी के बाद वैश्विक आर्थिक मंदी का डर और डॉलर की कीमतों में गिरावट के कारण सोने की कीमतों में तेजी आ रही है. उन्होंने कहा कि प्रमुख वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर में रिकवरी की संभावना कम है क्योंकि अमेरिका में नौकरी की वृद्धि धीमी हो गई है और इसलिए मंदी की आशंका के मद्देनजर यूएस फेड की ब्याज दर में बढ़ोतरी काम नहीं कर सकती है.

READ More...  RBI का ग्रामीण बैंक उपभोक्‍ताओं को तोहफा! नेटबैंकिंग के नियमों में दी ढील

इसलिए, आने वाले सप्ताह में सोना निवेशकों के लिए सुरक्षित निवेश के रूप में उभर सकता है और इसलिए, सोने की कीमतों में किसी भी गिरावट को निवेशकों द्वारा खरीदारी के अवसर के रूप में देखा जाना चाहिए.

किन स्तरों पर खरीदें और कहां बेचें?
मार्केट एक्सपर्ट्स ने कहा कि कीमती बुलियन धातु को ₹54,700 के भाव पर मजबूत सपोर्ट मिला है. गोल्ड को ₹55,200 से ₹55,000 के लक्ष्य के लिए खरीदना चाहिए क्योंकि सोने की कीमत एक नए शिखर को छू सकती है. अगले सप्ताह एक से दो सत्रों में गोल्ड की कीमत ₹54,500 के स्तर से ऊपर बनी रहेगी. वहीं, अंतरराष्ट्रीय बाजार में हाजिर सोने की कीमत को 1,820 डॉलर के स्तर पर मजबूत सपोर्ट मिला है और ऊपरी स्तर पर 1,890 डॉलर और 1,910 डॉलर अगले संभावित लक्ष्य हो सकते हैं, जिसकी उम्मीद आगामी सत्रों में की जा सकती है.

मिंट की खबर के अनुसार, सोने की दरों में वृद्धि की अहम वजहों में बाजार विशेषज्ञ सुगंधा सचदेवा ने कहा, “चीन में कोविड मामलों में अभूतपूर्व वृद्धि और डॉलर इंडेक्स में गिरावट से बढ़ती अनिश्चितता के कारण सोने की डिमांड में तेजी आई है. वहीं, बीते सप्ताह अहम आर्थिक आंकड़ों के आधार पर यूएस फेड अधिकारियों ने आक्रामक नीति को जारी रखने का संकेत दिया है.

Tags: 24 carat gold price, Gold investment, Gold price, Gold price News

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)