harsha engineers ipo e0a495e0a4b2 e0a4b9e0a58be0a497e0a4be e0a4b6e0a587e0a4afe0a4b0e0a58be0a482 e0a495e0a4be e0a486e0a4b5e0a482e0a49fe0a4a8
harsha engineers ipo e0a495e0a4b2 e0a4b9e0a58be0a497e0a4be e0a4b6e0a587e0a4afe0a4b0e0a58be0a482 e0a495e0a4be e0a486e0a4b5e0a482e0a49fe0a4a8 1

हाइलाइट्स

हर्ष इंजीनियर्स आईपीओ का क्यूआईबी के लिए आरक्षित हिस्सा सर्वाधिक सब्सक्राइब हुआ.
ग्रे मार्केट प्रीमियम को देखें तो कंपनी के शेयर 550 रुपये से ऊपर लिस्ट हो सकते हैं.
हर्ष इंजीनियर्स के शेयर 26 सितंबर को स्टॉक मार्केट में लिस्ट हो सकते हैं.

नई दिल्ली. हर्ष इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड अपने आईपीओ के लिए बोली लगाने लगाने वालों को बुधवार से आवंटित करेगी. कंपनी का आईपीओ 14 सितंबर को सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था और 16 सितंबर तक इसके लिए बोली लगी थी. तीन दिन में आईपीओ कुल 74.70 गुना सब्सक्राइब हुआ था. रिटेल बोलीदाताओं के लिए आरक्षित हिस्सा 17.6 गुना, गैर-संस्थागत निवेशकों (एनआईआई) का हिस्सा 71.3 फीसदी व क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बिडर्स (क्यूआईबी) का हिस्सा सर्वाधिक 178.26 फीसदी सब्सक्राइब हुआ था.

कंपनी प्रिसिजन बियरिंग केजेस की भारत में सबसे बड़ी निर्माताओं में से एक है. यह ऑटोमोटिव, रेलवे, एविएशन-एयरोस्पेस, कंस्ट्रक्शन, माइनिंग, एग्रीकल्चर, इलेक्ट्रानिक्स व रिन्यूएबल एनर्जी के क्षेत्र में कार्यरत कंपनियों को अपनी सेवाएं देती है. इसके उत्पाद 25 देशों में सप्लाई किए जाते हैं.

ये भी पढ़ें- महंगा होगा लोहा, फिर बढ़ेंगे दाम? स्टील से एक्सपोर्ट ड्यूटी हटाने पर चर्चा जारी, जल्द हो सकता है फैसला

कहां देखें शेयर अलॉटमेंट
आप बीएसई की वेबसाइट पर शेयर अलॉटमेंट चेक कर सकते हैं. सबसे पहले आपको https://www.bseindia.com/investors/appli_check.aspx. इस लिंक पर जाना होगा. इसके बाद इश्यू नेम में हर्ष इंजीनियर्स चुनें. अपना पैन कार्ड नंबर डालें. आप इसी तरह लिंक इनटाइम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की वेबसाइट पर भी अलॉटमेंट चेक कर सकते हैं. जिन भी बोलीदाताओं को शेयर अलॉट नहीं हुए उन्हें 22 सितंबर से रिफंड मिलने लगेगा. बता दें कि हर्ष इंजीनियर्स 26 सितंबर को बाजार में सूचीबद्ध हो सकती है.

READ More...  SBI में है आपका अकाउंट तो आसानी से ले सकते हैं फिक्स्ड डिपॉजिट पर लोन, जानिए प्रोसेस

आईपीओ की डिटेल्स
हर्ष इंजीनियर्स 755 करोड़ रुपये जुटाने के लिए आईपीओ लेकर आई थी. इसमें 455 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए और 300 करोड़ रुपये के शेयर ऑफर फोर सेल (ओएफएस) के जरिए पेश किए गए. कंपनी ने आईपीओ का प्राइस बैंड 314-330 रुपये तय किया था. बोलीदाता को कम-से-कम एक लॉट के लिए बोली लगानी थी जिसमें 45 शेयर थे. पात्र कर्मचारियों को हर शेयर पर 31 रुपये का डिस्काउंट मिला था. सोमवार को तक इसका ग्रे मार्केट प्रीमियम (जीएमपी) 234 रुपये पर था. इसका मतलब है कि शेयरों की लिस्टिंग बंपर उछाल के साथ हो सकती है. अगर जीएमपी को आधार माना जाए तो इसके शेयर आईपीओ प्राइस बैंड की ऊपरी लिमिट के हिसाब से 564 रुपये के करीब लिस्ट होंगे.

जुटाए गए पैसों का क्या होगा इस्तेमाल
कंपनी जुटाई गई रकम में से 270 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कर्ज चुकाने के लिए करेगी. इसके अलावा 77.95 करोड़ रुपये का उपयोग मशीने खरीदने, 7.12 करोड़ रुपये का इस्तेमाल इंफ्रास्ट्रक्चर की मरम्मत और अन्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए किया जाएगा.

Tags: Business news in hindi, IPO, Share market, Stock market

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)