ind vs nz e0a4a8e0a58de0a4afe0a582e0a49ce0a580e0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a495e0a587 e0a495e0a58be0a49a e0a4b2e0a58de0a4afe0a582e0a495
ind vs nz e0a4a8e0a58de0a4afe0a582e0a49ce0a580e0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a495e0a587 e0a495e0a58be0a49a e0a4b2e0a58de0a4afe0a582e0a495 1

हाइलाइट्स

टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के बल्लेबाजी एप्रोच की हो रही है आलोचना
कई पूर्व खिलाड़ियों ने निडर होकर खेलने की दी है सलाह
कीवी कोच ल्यूक रोंची का विचार आया सामने

नई दिल्ली. न्यूजीलैंड के बल्लेबाजी कोच ल्यूक रोंची (Luke Ronchi) ने कहा है कि एक टीम की बल्लेबाजी शैली मुख्य रूप से खेलने की परिस्थितियों से तय होती है. हालात की परवाह किए बिना, बल्लेबाजी करना सही नहीं होता. टी20 वर्ल्ड कप 2022 (T20 World Cup 2022) के सेमीफाइनल में इंग्लैंड से 10 विकेट से मिली हार के बाद टीम इंडिया (Team India) के बल्लेबाजी एप्रोच की कई पूर्व क्रिकेटर्स ने आलोचना की थी. पूरे टूर्नामेंट में भारत का टॉप ऑर्डर पावर-प्ले में अधिक रन बनाने के लिए संघर्ष करता नजर आया था.

ल्यूक रोंची ने कहा कि आप उन परिस्थितियों के अनुसार खेलते हैं जो आपके सामने हैं. कभी-कभी लोग सोचते हैं कि आपको हर मैच में एक ही तरह से खेलना चाहिए. टी20 वर्ल्ड कप के हर मैच में स्थितियां अलग-अलग थीं. न सिर्फ भारतीय टीम बल्कि हमने भी इसका अनुभव किया.

यह भी पढ़ें- VIDEO: नन्हें फैन ने मांगी शर्ट तो वॉर्नर ने लाबुशेन को फंसाया, लाइव मैच में हुई ‘पोस्टरबाजी’

लक्ष्मण ने की है आक्रामक खेल की पैरवी:

वेलिंगटन में कीवियों के खिलाफ पहले टी20 मैच से पूर्व भारतीय कोच वीवीएस लक्ष्मण ने कहा था कि टीम को न्यूजीलैंड में आक्रामक क्रिकेट खेलने की जरूरत है. हालांकि, उन्होंने यह भी माना कि भारत के युवा बल्लेबाजों को मैच की परिस्थितियों के हिसाब से अपने खेल को बदलने की बुद्धिमानी भी दिखानी होगी. लक्ष्मण ने कहा कि हार्दिक पंड्या और मेरा संदेश यही है कि आक्रामक खेलिए लेकिन परिस्थितियों को भी सम्मान दीजिए.

READ More...  शॉर्ट्स मत पहनो, निखत से रिश्तेदार कहते थे; आज वही बनी वर्ल्ड चैम्पियन, पिता ने सुनाई बेटी के संघर्ष की कहानी

मैक्ग्रा भी कर चुके हैं निडर खेल का समर्थन:

टी20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खराब प्रदर्शन के बाद पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से इंग्लैंड की व्हाइट-बॉल स्ट्रेटेजी से सीखने की बात करते हुए कहा था कि हमें बहादुरी और बिना नाकमी के डर से खेलना चाहिए. उन्होंने कहा कि कंगारू टीम ने हमेशा ही भयरहित क्रिकेट खेली. मुझे हैरानी इस बात को लेकर है कि क्या वे इन दिनों हार के डर के साथ क्रिकेट खेल रहे हैं. आपको मैदान पर उतरकर सिर्फ अपना समर्थन करना होता है और इंग्लैंड इस समय इसी ब्रांड की क्रिकेट खेल रहा है. जब आप इस शैली की क्रिकेट खेलते हैं तो चीजें और हालात आपके पक्ष में जाने को मजबूर हो जाते हैं.

Tags: India vs new zealand, New Zealand, Team india

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)