indonesia e0a4abe0a4bfe0a4b0 e0a495e0a4bee0a482e0a4aa e0a497e0a4afe0a4be e0a487e0a482e0a4a1e0a58be0a4a8e0a587e0a4b6e0a4bfe0a4afe0a4be
indonesia e0a4abe0a4bfe0a4b0 e0a495e0a4bee0a482e0a4aa e0a497e0a4afe0a4be e0a487e0a482e0a4a1e0a58be0a4a8e0a587e0a4b6e0a4bfe0a4afe0a4be 2

हाइलाइट्स

अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के अनुसार, भूकंप की तीव्रता 6.1 थी
केंद्र गोरोन्तालो के 65 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पूर्व में समुद्र में था

जकार्ता. इंडोनेशिया के पूर्वी हिस्से में बुधवार को जोरदार भूकंप के झटके महसूस किये गए. हालांकि किसी तरह के गंभीर जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के अनुसार, भूकंप की तीव्रता 6.1 थी और इसका केंद्र गोरोन्तालो के 65 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पूर्व में समुद्र में 147 किलोमीटर की गहराई पर था. गोरोन्तालो, उत्तरी सुलावेसी, उत्तरी मलुकु और मध्य सुलावेसी प्रांत में इसके झटके महसूस किए गए.

इंडोनेशिया की मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान व भूभौतिकी एजेंसी ने सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की है. प्रशांत महासागर में ‘रिंग ऑफ फायर’ पर इंडोनेशिया की स्थिति के कारण यहां भूकंप का खतरा अधिक रहता है.

गौरतलब है कि पश्चिम जावा के सियानजुर शहर में 21 नवंबर को आए 5.6 की तीव्रता वाले भूकंप में कम से कम 331 लोग मारे गए थे और करीब 600 लोग घायल हुए थे. इससे पहले सुलावेसी में 2018 में आए भूकंप और सुनामी में करीब 4,340 लोग मारे गए थे. वहीं 2004 में हिंद महासागर में एक अत्यंत शक्तिशाली भूकंप के कारण सुनामी आने से एक दर्जन देशों में 2,30,000 से अधिक लोगों की जान गई थी, जिनमें अधिकतर लोग इंडोनेशिया के आचे प्रांत के थे.

Tags: Earthquake, Earthquake News, Indonesia

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)