itr reforms e0a49fe0a588e0a495e0a58de0a4b8 e0a495e0a4b2e0a587e0a495e0a58de0a4b6e0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a489e0a49be0a4bee0a4b2 e0a4b8
itr reforms e0a49fe0a588e0a495e0a58de0a4b8 e0a495e0a4b2e0a587e0a495e0a58de0a4b6e0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a489e0a49be0a4bee0a4b2 e0a4b8 1

हाइलाइट्स

नई टैक्स रिजीम में कुछ बदलाव अगले साल भी होने की उम्मीद
ज्यादातर टैक्सपेयर्स के लिए एक सामान्य आईटीआर फॉर्म तैयार करने पर काम जारी
टैक्स चोरी करने वालों पर अधिक सख्ती कर सकती है सरकार

नई दिल्ली. टैक्स कलेक्शन में 26 फीसदी बढ़ोतरी के साथ सरकार कर प्रशासन में सुधारों का अगला दौर शुरू करने जा रही है जिसमें इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) दाखिल करने के लिए उपलब्ध फॉर्म की संख्या में कटौती की जा सकती है. इस बदलाव से टैक्सपेयर्स को सहूलियत होगी और रिटर्न दाखिल करने में लगने वाले समय में कमी आएगी.

महामारी के बाद इकोनॉमी के रिकवरी के स्पष्ट संकेत और टैक्स लीकेज को रोकने के सरकारी प्रयासों के चलते 2022 में डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में उछाल आया है. आने वाले दिनों में सरकार टैक्स चोरी करने वालों पर अधिक सख्ती कर सकती है. इसके साथ ही ऑनलाइन गेमिंग के अलावा ई-कॉमर्स और ऑनलाइन सर्विस प्रोवाइडर्स के लिए सख्त टैक्स नॉर्म्स पर भी विचार किया जा सकता है.

अगले साल जी-20 देशों के नेताओं की मेजबानी करने के लिए तैयार है देश
भारत अगले साल जी-20 देशों के नेताओं की मेजबानी करने के लिए तैयार है. इसके साथ ही डिजिटल इकोनॉमी में टैक्सेशन, विकासशील देशों को टैक्सेज का उचित हिस्सा सुनिश्चित करना और क्रिप्टोकरेंसी का टैक्सेशन भी एजेंडे में होगा.

ये भी पढ़ें- Income Tax Rate and Slab 2023- ITR फाइलिंग के लिए नए साल में क्या होंगी टैक्स दरें और स्लैब? जानें

लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स स्ट्रक्चर के युक्तिकरण (Rationalisation) से भी समान एसेट क्लास के बीच होल्डिंग अवधि में समानता आने की उम्मीद है. इस समय एक साल से अधिक के लिए रखे गए शेयरों पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन पर 10 फीसदी टैक्स लगता है. अचल संपत्ति की बिक्री और 2 साल से अधिक के लिए रखे गए अनलिस्टेड शेयरों और 3 साल से अधिक के लिए रखे गए डेट इंस्ट्रूमेंट और आभूषणों पर 20 फीसदी लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स लगता है.

READ More...  नए अवतार में आ रही मारुति स्विफ्ट हैचबैक, पेट्रोल के साथ CNG का भी मिलेगा विकल्प

टैक्स रिजीम को और अधिक आकर्षक बनाना चाहती है सरकार
नई टैक्स रिजीम में कुछ बदलाव अगले साल भी होने की उम्मीद है, क्योंकि सरकार व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स के लिए छूट मुक्त टैक्स रिजीम को और अधिक आकर्षक बनाना चाहती है.

फिलहाल टैक्सपेयर्स के लिए 7 तरह के आईटीआर फॉर्म उपलब्ध
टैक्स अधिकारी ज्यादातर टैक्सपेयर्स के लिए एक सामान्य आईटीआर फॉर्म तैयार करने पर काम कर रहे हैं. हालांकि व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स के लिए फॉर्म (आईटीआर-1 और 4) जारी रहेंगे. आईटीआर-1 और आईटीआर-4 दाखिल करने वाले टैक्सपेयर्स को यह चुनने का विकल्प मिलेगा कि वे अपना टैक्स रिटर्न दाखिल करते समय प्रस्तावित सामान्य आईटीआर फॉर्म या मौजूदा फार्म में से कौन सा फॉर्म चाहते हैं. फिलहाल विभिन्न श्रेणियों वाले टैक्सपेयर्स के लिए 7 तरह के आईटीआर फॉर्म उपलब्ध हैं.

Tags: Business news, Business news in hindi, Income tax, Income tax return, ITR, ITR filing

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)