lic e0a4b9e0a4bee0a489e0a4b8e0a4bfe0a482e0a497 e0a4abe0a4bee0a487e0a4a8e0a587e0a482e0a4b8 e0a4b8e0a587 e0a495e0a4b0e0a58de0a49c e0a4b2
lic e0a4b9e0a4bee0a489e0a4b8e0a4bfe0a482e0a497 e0a4abe0a4bee0a487e0a4a8e0a587e0a482e0a4b8 e0a4b8e0a587 e0a495e0a4b0e0a58de0a49c e0a4b2 1

नई दिल्ली. हाउसिंग फाइनेंस कंपनी एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (LIC HFL) ने अपने ग्राहकों को झटका दिया है. दरअसल, एचडीएफसी के बाद एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस ने लेंडिंग रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी की घोषणा की है. इससे उसके होम लोन (Home Loan) की न्यूनतम दर बढ़कर 8.65 फीसदी हो गई है. रिजर्व बैंक की ओर से रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद से जमा के साथ लोन की ब्याज दरों में बढ़ोतरी देखी जा रही है.

एक सप्ताह पहले एचडीएफसी ने भी अपनी खुदरा प्रधान लेंडिंग रेट में 0.35 फीसदी की वृद्धि की घोषणा की थी जिसके उसके होम लोन की न्यूनतम दर बढ़कर 8.65 फीसदी हो गई थी.

एलआईसीएचएफ ने बयान में कहा कि उसने कर्ज पर ब्याज दर से संबंधित एलआईसी हाउसिंग प्राइम लेंडिंग रेट (LHPLR) में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी की है. कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव वाई विश्वानाथ गौड़ा ने कहा, ‘‘दरों में बढ़ोतरी मार्केट की परिस्थितियों को देखते हुए की गई है.’’

महंगे रेपो रेट का असर
रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद बैंकों से लेकर हाउसिंग फाइनैंस कंपनियां ब्याज दरें बढ़ाते जा रहे हैं. रिजर्व बैंक ने इस साल में अब तक 5 बार रेपो में बढ़ोतरी की है. केंद्रीय बैंक ने महंगाई कम करने के इरादे से 7 दिसंबर को द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में रेपो रेट में 0.35 फीसदी की एक और बढ़ोतरी कर इसे 6.25 फीसदी कर दिया.

Tags: Bank Loan, Facts About Home Loan, Home loan EMI, Taking a home loan

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)