monsoon e0a4aee0a4b9e0a580e0a4a8e0a587 e0a495e0a587 e0a485e0a482e0a4a4 e0a4a4e0a495 e0a4a6e0a4bfe0a4b2e0a58de0a4b2e0a580 ncr e0a4ae
monsoon e0a4aee0a4b9e0a580e0a4a8e0a587 e0a495e0a587 e0a485e0a482e0a4a4 e0a4a4e0a495 e0a4a6e0a4bfe0a4b2e0a58de0a4b2e0a580 ncr e0a4ae 1

नई दिल्‍ली : मॉनसून (Monsoon 2022) की बारिश का इंतजार कर रहे राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लोगों को अभी कुछ दिन का सब्र और करना पड़ेगा. इस महीने के अंत तक दिल्‍ली एनसीआर में मॉनसून की बारिश शुरू होने का अनुमान है. मॉनसून के अग्रदूत हवा के पैटर्न में बदलाव, बादल छाए रहना, आर्द्रता में वृद्धि अभी देखने को मिल रही है. मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि फ‍िलहाल 3 से 4 दिन तक मौसम पूरी तरह से शुष्‍क रहेगा, लेकिन 27 तारीख से मौसमी परिवर्तन देखने को मिलेगा.

स्‍काईमेट के मौसम विज्ञानी महेश पालावत कहते हैं कि 1 जून से 14 जून तक राष्ट्रीय राजधानी में कोई बारिश नहीं हुई और शून्य वर्षा दर्ज की गई. प्री-मॉनसून बारिश की गतिविधि 15 जून के आसपास शुरू हुई, जो काफी लंबा समय था, जिसमें तापमान गिरना शुरू हो गया था और गर्मी की लहर खत्‍म हो गई थी. हालांकि बारिश (Rain) बहुत तेज नहीं हुई है.

उन्‍होंने बताया कि मौसम विभाग (IMD) की सफदरजंग वेधशाला में अब तक 23.7 मिमी और पालम में सिर्फ 15 मिमी बारिश दर्ज की गई है. हालांकि, तापमान प्रोफ़ाइल में भारी बदलाव आया है, जिसमें अधिकतम तापमान मौजूदा वक्‍त में में 45 डिग्री से गिरकर 34-35 डिग्री हो गया है. एक समय ऐसा भी था जब अधिकतम पारा और भी गिरकर 31 डिग्री पर आ गया था.

उन्‍होंने कहा कि दिल्ली और एनसीआर में अधिकतम तापमान सामान्य से 4-5 डिग्री नीचे चल रहा है. न्यूनतम तापमान भी 23-24 डिग्री के आसपास बना हुआ है. इस प्रकार, इस लंबे प्री मॉनसून स्पेल के कारण न्यूनतम और अधिकतम दोनों में काफी गिरावट आई है. अन्य परिवर्तन जो दिखाई दे रहे हैं, वे हैं हवा के पैटर्न में बदलाव, बादल छाए रहना, आर्द्रता में वृद्धि, जो मानसून (Monsoon Rain) के अग्रदूत हैं.

READ More...  Tamil Nadu Election: कांग्रेस के हिस्से में सिर्फ आईं 25 सीटें, पिछली बार 41 पर लड़ा था चुनाव

उन्‍होंने पूर्वानुमान जताते हुए कहा कि अगले 3-4 दिनों के लिए हम किसी भी महत्वपूर्ण मौसमी बदलाव की उम्मीद नहीं करते हैं और ज्यादातर शुष्क स्थिति 26 जून तक बनी रहेगी. 27 जून कुछ मॉनसून प्रणाली के अग्रदूत के रूप में हवा में कुछ बदलाव ला सकता है. हवाएं पुरवाई बन जाएंगी. हल्की बौछारें और गरज के साथ बौछारें पड़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हो जाएंगी. 27 से 30 जून के बीच बारिश हो सकती है. गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं और 29 जून से 1 जुलाई के बीच कभी भी दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में मॉनसून दस्तक देगा.

Tags: Delhi Rain, Monsoon

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)