petrol diesel sales e0a4a6e0a4bfe0a4b8e0a482e0a4ace0a4b0 e0a4aee0a587e0a482 e0a4b2e0a58be0a497e0a58be0a482 e0a4a8e0a587 e0a496e0a582e0a4ac
petrol diesel sales e0a4a6e0a4bfe0a4b8e0a482e0a4ace0a4b0 e0a4aee0a587e0a482 e0a4b2e0a58be0a497e0a58be0a482 e0a4a8e0a587 e0a496e0a582e0a4ac 1

हाइलाइट्स

दिसंबर में पेट्रोल-डीजल की बिक्री में जोरदार उछाल
पेट्रोल की बिक्री 8.6 फीसदी बढ़ी
डीजल की खपत में 13 फीसदी का इजाफा

नई दिल्ली. कृषि क्षेत्र में खपत बढ़ने से देश में पेट्रोल और डीजल (Petrol-Diesel) की मांग दिसंबर में सालाना आधार पर बढ़ी है. प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक, पिछले महीने पेट्रोल की बिक्री 8.6 फीसदी बढ़कर 27.6 लाख टन हो गई जबकि पिछले साल इसी महीने में 25.4 लाख टन खपत हुई थी.

कोविड-19 महामारी से प्रभावित दिसंबर 2020 की तुलना में बिक्री 13.3 फीसदी और प्री-कोविड यानी दिसंबर 2019 की तुलना में 23.2 फीसदी अधिक रही. वहीं, मासिक आधार पर बिक्री 3.7 फीसदी बढ़ी है. आंकड़ों के मुताबिक, देश में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले ईंधन डीजल की बिक्री पिछले महीने 13 फीसदी बढ़कर 73 लाख टन हो गई.

ये भी पढ़ें- GST Collection: सरकार की कमाई में इजाफा, दिसंबर में 15% बढ़ा जीएसटी कलेक्शन, खजाने में आए 1.49 लाख करोड़ रुपये

डीजल की खपत भी बढ़ी
दिसंबर 2020 की तुलना में डीजल की खपत 14.8 फीसदी और प्री-कोविड यानी 2019 की तुलना में 11.3 फीसदी अधिक थी. हालांकि नवंबर 2022 की तुलना में डीजल की बिक्री में 0.5 फीसदी की मामूली गिरावट आई है जबकि पेट्रोल और डीजल की बिक्री जून के बाद से इस महीने सर्वाधिक रही है.

कृषि क्षेत्र में गतिविधियां बढ़ने से डीजल की मांग तेजी से बढ़ी
इंडस्ट्री सूत्रों ने कहा कि कृषि क्षेत्र में गतिविधियां बढ़ने से डीजल की मांग तेजी से बढ़ रही है. रबी फसल की बुवाई के साथ आर्थिक गतिविधियों में तेजी आई और मांग में वृद्धि हुई. वाहन ईंधन की बिक्री जुलाई और अगस्त में मानसून रहने और कम मांग के कारण घटी थी.

READ More...  एथर 450X इलेक्ट्रिक स्कूटर में होंगे बदलाव, नए फीचर्स जोड़ने पर चल रहा है काम

ये भी पढ़ें- LPG Cylinder Price Hike: नए साल पर ग्राहकों को झटका, कमर्शियल एलपीजी हुई 25 रुपये महंगी, चेक करें नए रेट

प्री-कोविड लेवल पर पहुंच गई एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या
एविएशन सेक्टर के खुलने के साथ एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या प्री-कोविड लेवल पर पहुंच गई. इससे एटीएफ की मांग दिसंबर के दौरान 18 फीसदी बढ़कर 606,000 टन हो गई. यह दिसंबर, 2020 की तुलना में 50.6 फीसदी अधिक है, लेकिन  प्री-कोविड यानी दिसंबर, 2019 की तुलना में 12.1 फीसदी कम है. सूत्रों ने कहा कि घरेलू हवाई यात्रा प्री-कोविड लेवल पर वापस आ गई है, लेकिन कुछ देशों में अब भी जारी कोविड प्रतिबंधों से अंतरराष्ट्रीय यातायात पर प्रतिकूल असर पड़ा है.

 

एलपीजी की बिक्री बढ़ी
आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर में रसोई गैस एलपीजी की बिक्री सालाना आधार पर 7.7 फीसदी बढ़कर 27.2 लाख टन रही. एलपीजी की खपत दिसंबर, 2020 की तुलना में 7.7 फीसदी और दिसंबर, 2019 की तुलना में 15.9 फीसदी अधिक है. मासिक आधार पर एलपीजी की खपत नवंबर के 25.5 लाख टन की तुलना में 6.47 फीसदी बढ़ी है.

Tags: Business news, Business news in hindi, Diesel, Petrol, Petrol and diesel

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)