vastu tips e0a491e0a4abe0a4bfe0a4b8 e0a494e0a4b0 e0a4a6e0a581e0a495e0a4bee0a4a8 e0a4aae0a4b0 e0a4a8e0a4be e0a4b0e0a496e0a587e0a482 e0a4ae
vastu tips e0a491e0a4abe0a4bfe0a4b8 e0a494e0a4b0 e0a4a6e0a581e0a495e0a4bee0a4a8 e0a4aae0a4b0 e0a4a8e0a4be e0a4b0e0a496e0a587e0a482 e0a4ae 1

हाइलाइट्स

दुकान में पूजा घर को वास्तु के हिसाब से रखना चाहिए.
मंदिर में देवताओं की कई तस्वीरें रखना अशुभ होता है.
पूजा के वक्त मां लक्ष्मी के मंत्र का जाप करना चाहिए.

Vastu Tips: हमारे जीवन में वास्तु शास्त्र बड़ा महत्व है. घर से लेकर दफ्तर, दुकानों में चीजों को व्यवस्थित ढंग से रखने में वास्तु शास्त्र का विशेष महत्व माना जाता है. वास्तु शास्त्र में हमारे जीवन की परेशानियों को कम करने के कई उपाय बताए गए हैं. घर, दुकान, फैक्ट्री, ऑफिस आदि में सबसे अहम स्थान मंदिर का होता है, जहां देवताओं की प्रतिमा रखी जाती हैं और उनकी पूजा होती है. वास्तु शास्त्र में मंदिर से जुड़े कुछ विशेष नियम बताए गए हैं. ऐसे में इन नियमों के अनुसार अगर मंदिर रखते हैं तो जीवन में सुख—समृद्धि व सौभाग्य हमेशा बना रहेगा.

ये भी पढ़ें: कब है इस साल की अंतिम अमावस्या? जानें स्नान-दान का मुहूर्त और महत्व

ऐसी तस्वीर ना रखें
पंडित इंद्रमणि घनस्याल के अनुसार, अक्सर लोग दफ्तर या दुकान में पूजा घर में देवी देवताओं की कई तस्वीरें रखते हैं, जो शुभ नहीं होता है. इसी तरह पूजा घर में भगवान गणेश, मां लक्ष्मी और मां सरस्वती की बैठी हुई तस्वीर नहीं लगानी चाहिए. दुकान या किसी कार्यस्थल पर इन तीनों देवताओं के बैठे हुए मुद्रा में तस्वीर लगाना अशुभ होता है. मान्यता है कि इससे सुख—समृद्धि, धन, ज्ञान, बुद्धि व शुभ लाभ का आगमन नहीं होता है.

कभी ना रखें अंधेरा
वास्तु शास्त्र के अनुसार, दुकान या दफ्तर के पूजा घर में हमेशा भगवान गणेश, मां सरस्वती और मां लक्ष्मी की खड़ी हुई तस्वीर लगानी चाहिए. इस बात का भी ध्यान रखें कि पूजा घर में कभी भी अंधेरा नहीं रहना चाहिए. इन जगहों पर रोशनी होनी चाहिए. मंदिर के आस पास सीलन नहीं होनी चाहिए, इससे व्यापार में आर्थिक नुकसान होता है.

READ More...  07 नवंबर 2022 का राशिफल: कर्क राशि वालों की वेतनवृद्धि होगी, सिंह, कन्या राशि वाले हेल्थ का ध्यान रखें

ये भी पढ़ें: कब है साल की आखिरी विनायक चतुर्थी? जानें पूजा मुहूर्त और चंद्रोदय समय

इस दिशा में रखें मूर्ति
वास्तु शास्त्र के अनुसार, मां देवी की मूर्ति ईशान कोण में पूर्व या उत्तर दिशा में रखनी चाहिए. पूजा के समय देवी का मुंह पश्चिम में होना श्रेष्ठ माना जाता है. पूजा के समय घी का दीपक जरूर जलाएं. साथ में कपूर जलाकर दुकान में धूप करना चाहिए. इसके अलावा सुबह की पूजा के समय ॐ लक्ष्मीभ्यो नम: का 108 बार जाप करना चाहिए. इससे नकारात्मक ऊर्जा खत्म होगी और मां लक्ष्मी की कृपा से व्यापार लाभदायक रहेगा.

Tags: Astrology, Dharma Aastha, Dharma Culture

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)