year ender 2022 e0a487e0a4b8 e0a4b8e0a4bee0a4b2 e0a497e0a58de0a4b0e0a4b9e0a58be0a482 e0a495e0a587 10 e0a4afe0a58be0a497 e0a4b0e0a4b9e0a587
year ender 2022 e0a487e0a4b8 e0a4b8e0a4bee0a4b2 e0a497e0a58de0a4b0e0a4b9e0a58be0a482 e0a495e0a587 10 e0a4afe0a58be0a497 e0a4b0e0a4b9e0a587 1

हाइलाइट्स

वर्ष 2022 ग्रह-नक्षत्रों की चाल से बदलावों वाला रहा.
सूर्य व चंद्र ग्रहण सहित ऐसे कई योग बने, जिनसे जन जीवन प्रभावित रहा.

ज्योतिष शास्त्र के लिहाज से वर्ष 2022 बहुत बदलावों वाला रहा. इस साल में पहली बार ऐसा हुआ, जब दो सूर्य व दो चंद्र ग्रहण साथ हुए. वहीं, करीब 30 साल बाद शनि का कुंभ राशि में गोचर हुआ. इसके अलावा भी ग्रहों की चाल से ऐसे कई योग बने, जिन्हें व्यक्तिगत जीवन से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर तक की उथल- पुथल के लिए जिम्मेदार माना गया. आज हम आपको 2022 के 10 विशेष योगों के बारे में यहां बता रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: काली बिल्ली का दिखाई देना होता है शुभ-अशुभ, मिलते हैं कई संकेत

2022 के प्रमुख योग

1.दो सूर्य ग्रहण: साल 2022 में दो बार सूर्य ग्रहण के योग बने. इनमें पहला ग्रहण 30 अप्रैल व दूसरा 25 अक्टूबर को रहा.

2.दो चंद्र ग्रहण: सूर्य ग्रहण की तरह इस बार चंद्र ग्रहण के भी दो योग बने. पहला चंद्र ग्रहण 16 मई व दूसरा ग्रहण 8 नवंबर 2022 को हुआ.

3.रूचक योग: मंगल का अपनी या अपने से उच्च राशि में होना रूचक योग होता है. इस बार 26 फरवरी से 7 अप्रैल 2022 तक मंगल का ये योग लोगों के लिए मंगलकारी रहा.

4.बुधादित्य योग: 8 अप्रैल से 25 अप्रैल 2022 तक इस बार बुधादित्य योग रहा. इस दौरान बुध सूर्य के साथ गोचर में रहा. ये योग जातक का विवेक बढ़ाने वाला योग होता है.

5.शुक्र का राशि परिवर्तन: 27 अप्रैल 2022 को शुक्र ग्रह ने राशि परिवर्तन करते हुए शनि की कुंभ राशि से निकलकर गुरु की मीन राशि में संचार किया. प्रेम, विवाह, रोमांस व सुख-समृद्धि के प्रतीक शुक्र इस दौरान कई राशियों के लिए शुभ तो कइयों के लिए अशुभ रहा.

READ More...  आज का राशिफल, 5 जून 2022: मेष, वृष, मिथुन राशि वाले संपत्ति से सम्बंधित कोई भी काम न करें

6. 30 साल बाद शनि का गोचर: 29 अप्रैल 2022 को करीब 30 साल बाद शनि का कुंभ राशि में गोचर हुआ. शनि ने सुबह 7 बजकर 52 मिनट पर मकर राशि की यात्रा पूरी कर कुंभ राशि में प्रवेश किया. ये योग 12 जुलाई तक रहा. इससे धनु राशि की साढ़े साती कुछ दिनों के लिए खत्म होकर मीन राशि के लिए आरंभ हुई.

7.गुरु मंगल योग: मंगल व गुरु गृह की युति से बनने वाला ये योग अप्रैल व मई माह में बना. 13 अप्रैल को गुरु तथा 17 मई 2022 को मंगल ने मीन राशि में प्रवेश कर ये मंगलकारी योग बनाया.

8.शश योग: शनि का अपनी मकर या अपने से उच्च राशि में होना शश योग कहलाता है. ये योग जातकों के लिए शुभ रहता है. इस बार 29 अप्रैल से 12 जुलाई 2022 तक का समय छोड़ बाकी समय शनि का शश योग रहा, जो मजबूत शनि वाले लोगों के लिए शुभ रहा.

यह भी पढ़ें: भूकंप आने पर जैसे हिल जाते हैं पहाड़, हनुमानजी का थप्‍पड़ खाकर वैसा ही हुआ था रावण का हाल

9.नव पंचम राजयोग: 11 नवंबर को गुरु का शुक्र तथा 13 नवंबर 2022 को बुध के साथ गोचर से नवपंचम योग बना. इसी तरह 16 नवंबर को सूर्य के वृश्चिक राशि में प्रवेश करने पर गुरु व सूर्य ने भी नवपंचम राजयोग का निर्माण किया. ये योग गुरु, बुध, शुक्र व सूर्य प्रधान राशियों के लिए राजयोग सक्रिय करने वाला रहा.

10. शुक्र अस्त: सूर्य के नजदीक आने पर ऐसा देखने को मिला.

READ More...  इन 4 राशि के जातकों से हो जाएं सावधान, इन्हें धोखेबाजी से है सख्त नफरत

Tags: Astrology, Bye Bye 2022, Dharma Aastha, Dharma Culture, Year Ender

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)